4,000 रुपये किलो बिकती है काली हल्दी, इसकी खेती कर कम समय में किसान होंगे मालामाल, जाने डिटेल


आपने देखा होगा की आजकल लोग खेती की ओर तेजी रुख कर रहे हैं। ऐसे में आप भी खेती के जरिए मोटी कमाई करना चाहते है तो आज हम आपको एक ऐसी खेती के बारे में बताएंगे जिससे आपकी किस्मत के दरवाजे खुल जाएंगे. दरअसल, हम बात कर रहे हैं काली हल्दी के बारे में। जिसमे की पिली हल्दी के मुकाबले कई गुना पेशक तत्व उपस्थित होते है। जिसके कारन मार्केट में इसकी डिमांड काफी अधिक है। तो आप भी इसकी खेती कर तगड़ी कमाई कर सकते है। तो आइये जानते है काली हल्दी की खेती के बारे में विस्तार से।

यह भी पढ़े – गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा ऐलान, लोकसभा चुनाव से पहले लागू करेंगे CAA

काले हल्दी में है कई औषधीय गुण

आपको बता दे की काली हल्दी औषधीय गुणों से भरपूर है। और यही वजह है की केवल अपने देश में ही नहीं विदेशो में भी काफी मशहूर है. काली हल्दी का उपयोग प्रमुख रूप से सौंदर्य प्रसाधन व रोग नाशक दोनों ही रूपों में किया जाता है. काली हल्दी मजबूत एंटीबायोटिक गुणों के साथ चिकित्सा में जड़ी-बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। काली हल्दी का प्रयोग घाव, मोच, त्वचा रोग, पाचन तथा लीवर की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है. यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने में फायदेमंद साबित होती है।

See also  विदेशी फल को पसंद आई देसी जमीन, किसान हुए मालामाल, डेढ़ साल में दो बार कर ली तगड़ी कमाई

काली हल्दी की बुवाई का उचित समय

अगर आप काली हल्दी की खेती करने के बारे में सोच रहे है तो आपको बता दे की काली हल्दी की खेती के लिए इसकी बुआई का उपयुक्त समय वर्षा ऋतु माना जाता है। लेकिन यदि सिंचाई का साधन होने पर इसे मई माह में भी बुवाई की जा सकती है।

यह भी पढ़े – 10वीं, 12वीं पास युवाओं के लिए आर्मी में नौकरी पाने का सुनहरा मौका, हजारो पदों पर निकली भर्ती, ऐसे करे आवेदन

ऐसे करे काले हल्दी की खेती

आपकी जानकारी के लिए बता दे की काली हल्दी की खेती के लिए भुरभुरी दोमट मिट्टी सबसे उचित मानी जाती है। किन्तु इसकी खेती करते समय यह ध्यान रखना चाहिए कि खेत में बारिश का पानी ना रुकना चाहिए। नहीं तो पानी की वजह से फसल खराब भी हो सकती है। और एक हेक्टेयर में काली हल्दी के लगभग 2 क्विंटल बीज की आवश्यकता होती है।

हल्दी की अच्छी पैदावार के लिए ये करे

आपको बता दे की काली हल्दी की खेती करने की एक सबसे अच्छी बात यह भी है की इसमें किसी भी प्रकार के कीटनाशक की भी जरूरत नहीं होती है. इसकी वजह ये है कि इसके औषधीय गुणों के कारण इसमें कीट नहीं लगते हैं. इतना ही नहीं इसके आलावा काले हल्दी की खेती के को ज्यादा सिंचाई की जरूरत नहीं होती है। किन्तु अच्छी पैदावार के लिए खेती से पहले ही अच्छी मात्रा में गोबर की खाद डालने से हल्दी की पैदावार बेहतर होती है।

जानिए काली हल्दी की खेती से कितना होगा मुनाफा

अगर हम काली हल्दी की खेती में मुनाफे की बात करे तो एक एकड़ में काली हल्दी की खेती से कच्ची हल्दी करीब 70-80 क्विंटल इसका अर्थ यह है की इससे सूखी हल्दी का करीब 20-25 क्विंटल तक का उत्पादन आसानी से हो जाता है. यह 4000 रुपये किलो के हिसाब से आसानी से बिक जाती है। इस तरह आप काली हल्दी की खेती कर तगड़ा मुनाफा कमा सकते है। काली हल्दी की खेती में उत्पादन भले ही कम हो, लेकिन इसकी कीमत बहुत अधिक होती है।

See also  काली हल्दी की खेती कर किसान होंगे मालामाल, कम लागत पर मोटा मुनाफा, जानें इसके फायदे


Leave a Comment