बकरी,मुर्गी पालन नहीं कीजिए बतख पालन, होंगी अच्छी आय, पालन भी है आसान देखिये


बकरी,मुर्गी पालन नहीं कीजिए बतख पालन, होंगी अच्छी आय, पालन भी है आसान देखिये, आपने मुर्गी पालन, बकरी पालन आपने देखा और सुना होगा पर क्या कभी आपने बतख पालन सुना है नहीं सुना तो हम आपको बताते है डक फार्मिंग यानी बत्तख पालन एक आकर्षक कृषि व्यवसाय है। बत्तख के अंडे और मांस से किसानों को खूब आमदनी होती है। पोल्ट्री व्यवसाय में मुर्गी के बाद बत्तख पालन सबसे अधिक किया जाता है। जानकारी इसमें मुर्गी पालन से भी ज़्यादा मुनाफा है। तो आइये जानते है इसके बारे में..

यह भी पढ़े- 10 हजार रु में आता है 108 मेगापिक्सल कैमरे से लैस Realme का शानदार स्मार्टफोन, स्पेसिफिकेशन भी है दमदार, देखिए

किस मौसम में और कैसी जगह पर करे

image 134

आपको बता दे की बतख की उन्नत नस्लें 300 से अधिक अंडे एक साल में देते हैं मौसम और जगह की बात करे तो बत्तख एक जलीय पक्षी है, जो गांव के तालाबों, धान और मक्के के खेतों में आसानी से पाला जा सकता है। इसके लिए नम जलवायु की आवश्यकता होती है, जहां साल भर पानी की उचित व्यवस्था हो। बतखों के खुराक की बात की जाये तो बत्तखें कुछ भी खा लेती हैं, बशर्ते खाना गीला हो इसलिए, इनके आहार पर कुछ खास खर्च नहीं करना पड़ता। ऐसे आसानी से इसका पालन कर सकते है.

कौनसी नस्ल अच्छी होती है

अब इसकी कोनसी नस्ल सबसे अच्छी इसके लिए आपको बताये तो मांस उत्पादन के लिए– सफेद पैकिंग, एलिसबरी, मस्कोवी, राउन, आरफींगटन, स्वीडन, पैकिंग और अंडा उत्पादन के लिए– इंडियन रनर इसकी अच्छी नस्ल होती है.

See also  Alto का बोलबाला ख़त्म कर देती है धाकड़ कार, कड़क माइलेज के साथ बस इतनी सी है कीमत

बत्तख पालन से आय

image 135

यह भी पढ़े- 6 लाख रु में ले आये Exter से तगड़ी Tata की कार, जबराट माइलेज के साथ फीचर्स भी बमबाट

आपको बता दे की एक साल में एक बत्तख लगभग 300 अंडे देती है, जो मुर्गियों के मुकाबले दोगुनी है। इसके एक अंडे की कीमत बाज़ार में 6 से 8 रुपये मिल जाती है। इसके मांस की मांग भी बहुत अधिक है। इसका भी बाजार भाव अच्छा होता है. कुल मिलाकर इससे अच्छी आय प्राप्त की जा सकती है.


Leave a Comment