अंतर्जातीय विवाह करने पर सरकार दे रही 2.50 लाख रूपये, जानें कैसे उठाएं योजना का लाभ


Dr. Ambedkar Foundation Scheme: राज्य सरकार की ओर से देशभर में कई योजनाएं चलाई जा रही है उसी में से एक है डॉक्टर अंबेडकर फाउंडेशन योजना। इस योजना के तहत अपने पार्टनर के साथ अन्य कास्ट में शादी करना चाहते है तो इस योजना में आवेदन कर सकते है। इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य समाज में जाति भेदभाव को खत्म करना हैं। इस योजना के तहत दूसरी जाति में मैरिज करने पर सरकार 2.50 लाख रुपये की राशि प्रदान की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत युवक अंतर्जातीय विवाह कर सकते है।

यह भी पढ़े:-4,000 रुपये किलो बिकती है काली हल्दी, इसकी खेती कर कम समय में किसान होंगे मालामाल, जाने डिटेल

क्या हैं डॉ अंबेडकर फाउंडेशन योजना?

आपको बता दें कि किसी भी नवयुवक और नवयुवतियों को दूसरी जाति में शादी करने में किसी तरह की कोई परेशानी हो रही है। तो सरकार ऐसी शादियों को बढ़ावा देने के लिए लोगों की मदद करती है। आपको अरेंज मैरिज में तो कोई परेशानी नहीं आती है लेकिन अगर आप आपके परिजनों की मर्जी के खिलाफ जाकर लव मैरिज करना चाहते है तो इस योजना से आपको सरकार द्वारा आर्थिक सहायता लाभ मिलेगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको हिंदू मैरिज एक्ट 1955 के तहत शादी के लिए रजिस्टर करना पड़ेगा। साथ में आपके पास डॉक्यूमेंट भी होना आवश्यक है।

See also  Sahara India Refund List: सहारा इंडिया की ऐसे चेक करे रिफंड लिस्ट, 10 हजार रू की क़िस्त जारी

डॉ अम्बेडकर फाउंडेशन योजना के लिए पात्रता

  • आवेदन करने के लिए एक पति या पत्नी को अनुसूचित जाति होना चाहिए और दूसरा किसी भी जाति का हो।
  • हिंदू विवाह अधिनियम 1955 के तहत कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त रजिस्टर होना जरूरी है।
  • दोनों के पास शादी का कानूनी वैवाहिक प्रमाणपत्र प्रदान होना चाहिए।
  • ध्यान रहे कि दूसरी शादी या करने पर इस योजना का लाभ उपलब्ध नहीं है।
  • विवाह के एक वर्ष के भीतर प्रस्तुत किए गए प्रस्ताव वैध माने जाएंगे।
  • इस योजना के तहत दंपति को प्रोत्साहन राशि देने का निर्णय मान्य है।
  • इस योजना का लाभ सिर्फ विवाह के एक साल के अंदर ही ले सकते है।

डॉ अम्बेडकर फाउंडेशन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

यह भी पढ़े:-PM Suryoday Yojana: प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के तहत 1 करोड़ घरों में लगेगा सोलर पैनल, जानें पात्रता और आवेदन प्रक्रिया

  • शादी करने वाले दूल्हा और दुल्हन दोनों के नाम उनकी पहचान के प्रमाण पत्र हो।
  • आधार कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता कार्ड, या पैन कार्ड की फोटोकॉपी और मूलनिवासी प्रमाण पत्र।
  • दूल्हा और दुल्हन दोनों के पास अपना जाति प्रमाण पत्र हो।
  • पति और पत्नी दोनों के लिए उम्र प्रमाण के लिए जन्म प्रमाण।
  • व्यावसायिक आय प्रमाण पत्र।
  • सत्यापन के लिए विवाह प्रमाणपत्र संलग्न प्रमाणपत्र।
  • दोनों का संयुक्त बैंक खाते का विवरण।

ऐसे करें डॉ अम्बेडकर फाउंडेशन विवाह योजना के लिए आवेदन

  • सबसे पहले आपको अपने क्षेत्र के सांसद से बात करके इस योजना का फॉर्म लेना होगा।
  • अब आवेदन फॉर्म में मांगी गई पूरी जानकारी को सही से भरना है।
  • उसके बाद आपको अपने सभी डॉक्यूमेंट को अटैच करके डॉ अंबेडकर फाउंडेशन में भेजना होगा।
  • इसके साथ ही आप इस योजना के तहत फाॅर्म भरकर राज्य सरकार और जिला कार्यालय को भी दे सकते हैं।
  • यहां आपके सम्पूर्ण दस्तावेजों की जाँच की जाएगी।
  • इसके पश्चात मंजूरी मिलने पर कुल 2.50 लाख रुपये की राशि सीधी आपके खाते में प्रदान की जाएगी।
See also  PM मोदी ने झाबुआ में जमकर कांग्रेस पर साधा निशाना, 2024 के लोकसभा चुनाव में सफाया होना तय है


Leave a Comment